Category: Health News

ब्‍लड शुगर और कोलेस्‍ट्रॉल को नियंत्रित रखने के लिए रोजाना खाएं हरा धनिया, जानें इसके अन्‍य लाभ

Adhunik Samachar

धनिया पत्ती में एंटी इंफ्लामेटरी गुण पाया जाता है। जिसकी वजह से ये अर्थराइटिस में भी बहुत उपयोगी होता है। इसमें मौजूद विटामिन K अल्जाइमर की बीमारी में फायदेमंद होता है। नर्वस सिस्टम को सक्रिय बनाए रखने में भी धनिया की पत्ती काफी फायदेमंद होती है।

हरा धनिया सब्जी या खाने की खूबसूरती और स्‍वाद ही नहीं बढ़ाता बल्‍कि आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी बेहद फायदेमंद है। धनिया की पत्ती को चटनी के तौर पर भी इस्तेमाल किया जाता है। इससे ना सिर्फ आपकी पेट बल्कि आंखे और स्किन भी ठीक रहती है। धनिया में कई एंटीऑक्सीडेंटस होते हैं। साथ ही इसमें पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस, विटामिन सी, फाइबर और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं, और ये सभी पोषक तत्‍व बीमारियों को दूर रखने में मददगार होते हैं। आइये जानते हैं आपकी सेहत के लिए कितना फायदेमंद है (Benefits of Green Coriander) धनिए का सेवन। 

धनिया में मौजूद स्‍टेरिक एसिड और एस्कॉर्बिक एसिड (विटामिन सी) और कई ऐसे तत्व होते हैं जो स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने वाले कोलेस्ट्रॉल को कम करने और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है या उसे कंट्रोल में रखता है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण धमनी रोगों जैसे- हार्ट अटैक, हार्ट ब्लॉक, स्ट्रोक, कार्डियक अरेस्ट आदि का खतरा बढ़ जाता है।

धनिया में ब्‍लड शुगर को कंट्रोल करने की क्षमता होती है। धनिया पाउडर, बॉडी से शुगर के स्‍तर को कम कर देता है और इन्‍सुलिन की मात्रा को बढ़ाता है। इसी वजह से शरीर में ब्‍लड शुगर हमेशा कंट्रोल में रहती है। इसलिए ये डायबिटीज के मरीजों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। 

यदि आपके चेहरे पर मुंहासे हैं तो धनिया आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए धनिए की पत्तियों को पीसकर और चुटकी भर हल्दी पाउडर मिलाकर चेहरे पर दिन में कम से कम 2 बार लगाएं। इससे मुंहासों की समस्या दूर होती है और यह ब्लैकहेड्स को भी हटाता है। धनिए की पत्तियां, झुर्रियों को दूर भगाती है। इनमें एंटी-ऑक्‍सीडेंट काफी मात्रा में होता है। इसलिए इसे लगाने से चेहरे पर कोई दाग भी नहीं पड़ता है।

हरा धनिया पेट की समस्‍याओं का निवारण करता है, यह पाचनशक्ति बढ़ाता है। धनिए की ताजी पत्तियों को छाछ में मिलाकर पीने से मतली और कोलाइटिस में आराम मिलता है। हरा धनिया, हरी मिर्च, नारियल और अदरक की चटनी बनाकर खाने से अपच के कारण पेट में होने वाले दर्द से आराम मिलता है। आधा गिलास पानी में दो चम्‍मच धनिया डालकर पीने से पेट दर्द से राहत मिलती है।

जिन लोगों को ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारी होती है उनके लिए धनिया फायदेमंद है। क्योंकि इसमें कैल्शियम और अन्य आवश्यक खनिज पाए जाते हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाती है और ऑस्टियोपोरोसिस से बचाता है।

रोजाना हरे धनिए का प्रयोग अपने खाने में करने से आंखो की रोशनी बढ़ने लगती है। क्योंकि इसमें विटामीन ए भरपूर मात्रा में होता है जो आंखो के लिए बहुत आवश्यक होता है।