Category: Health News

Baby Care: घर में आने वाला है नन्हा शिशु, तो पहले ही खरीद लें ये 10 जरूरी बेबी केयर प्रोडक्ट्स

Adhunik Samachar

नन्हे शिशु का ख्याल रखने के लिए ढेर सारी चीजों की जरूरत पड़ती है। अगर घर में शिशु का जन्म होने वाला है, तो आपको ये 10 बेबी केयर प्रोडक्ट्स खरीद लेने चाहिए, ताकि आप अपने शिशु की अच्छी तरह देखभाल कर सकें। जानें बेबी केयर टिप्स।

घर में अगर शिशु जन्म लेने वाला हो, तो घर का माहौल ही अलग होता है। पहली बार मां/पिता बनने वाले लोगों के लिए, ये लम्हे ज्यादा ही खास होते हैं, क्योंकि होने वाला शिशु उनके लिए ढेर सारी खुशियां और आशाएं लेकर आता है। अपने होने वाले शिशु का ख्याल रखने के लिए मां-पिता तरह-तरह की चीजें खरीदने लगते हैं, ताकि उनके नन्हे राजकुमार/राजुकमारी को किसी तरह की परेशानी न हो। अगर आप नहीं जानते हैं कि शिशु की देखभाल के लिए कौन सी चीजें जरूरी हैं, तो हम आपकी कुछ मदद करते हैं। जानें 10 जरूरी बेबी केयर प्रोडक्ट्स, जो आपको शिशु के जन्म से पहले ही खरीद लेने चाहिए।

नन्हें शिशु के लिए सबसे जरूरी चीज है डायपर। शुरुआती दिनों में शिशु जल्दी-जल्दी पेशाब और मलत्याग करते हैं, इसलिए आपको जल्दी-जल्दी डायपर बदलना पड़ सकता है। डायपर खरीदते समय आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि डायपर शिशु की त्वचा के अनुकूल हो, यानी मुलायम हो और उसके पेट पर बहुत टाइट न हो।

शिशु को लपेटने के लिए टॉवेल भी एक जरूरी चीज है। गर्भ से बाहर आए शिशु को आसपास के तापमान के अनुसार ढलने में समय लगता है इसलिए शुरुआती दिनों में उसे तौलिए में अच्छी तरह लपेटकर रखना चाहिए। सही तरह से लपेटने से शिशु को आराम मिलता है और वो रोता भी नहीं है।

आजकल कामकाजी महिलाएं बहुत समय तक अपने शिशु को स्तनपान नहीं करवा पाती हैं। इसलिए थोड़े समय बाद उन्हें फार्मूला मिल्क का सहारा लेना ही पड़ता है। इसलिए जरूरी है कि आप शिशु के लिए दूध की बोतल और निप्पल ले लें, जिससे शिशु को काम के दौरान दूध पिलाना आसान हो जाए। अगर आप 6 महीने तक शिशु को स्तनपान कराने की सोच रही हैं, फिर भी घर में बोतल होना जरूरी है क्योंकि कई बार डॉक्टर कुछ दवाएं या सप्लीमेंट्स पानी में घोलकर शिशु को पिलाने को कहते हैं। निप्पल वाली बोतल से शिशु को दूध या तरल चीजें पिलाना आसान होता है।

शिशु भले बहुत छोटा हो, मगर उसे कपड़ों की जरूरत तो पड़ती ही है। छोटे बच्चों के लिए बाजार और ऑनलाइन स्टोर्स पर बहुत सारे खूबसूरत कपड़े मिलते हैं। आप इनमें से सबसे अच्छे कपड़ों को चुन सकते हैं, ताकि आपका राजकुमार/राजकुमारी खूबसूरत दिखे। बस कपड़े खरीदते समय इस बात का ध्यान दें कि कपड़े बहुत भारी न हों, न ही उसका मैटीरियल ऐसा हो, जिसमें पसीना ज्यादा आए।

शिशु की नाजुक त्वचा की साफ-सफाई के लिए आपको कपड़े के बजाय बेबी वाइप्स का इस्तेमाल करना चाहिए। आजकल बाजार और ऑनलाइन स्टोर्स पर एंटीबैक्टीरियल और विटामिन्स वाले बेबी वाइप्स मौजूद हैं, जो न सिर्फ मुलायम होने के कारण शिशु की त्वचा के लिए अच्छे होते हैं, बल्कि शिशु की त्वचा को सेहतमंद रखते हैं।

छोटे बच्चे खिलाते-पिलाते समय चीजों को उगल देते हैं। ऐसे में बच्चों के कपड़ों को खराब होने से बचाने के लिए आपको उन्हें बिब्स पहनाना चाहिए। ये एक प्रकार का कपड़ा होता है, जिसे बच्चे के गले में डालकर उसे खाना खिलाया जाता है। बिब्स बच्चे के मुंह को पोंछने के भी काम आता है।

शिशु के पांवों को ठंड से बचाने के लिए मोजे बहुत जरूरी हैं। नवजात शिशु को एसी भरे कमरे में सुलाने पर या सर्दी के मौसम में ठंड लगने का बहुत ज्यादा खतरा होता है। इसलिए शिशु को मोजे पहनाने चाहिए।

नन्हें शिशु को नहलाने के लिए बेबी बाथ टब होना चाहिए। इस तरह के बाथ टब में शिशु को नहलाना आसान होता है और आपको परेशानी कम होती है। बच्चों के लिए बाजार और ऑनलाइन स्टोर्स पर ढेर सारे आकर्षक बाथ टब आसानी से मिल जाते हैं। शिशु को नहलाते समय कुछ बातें ध्यान रखना बहुत जरूरी है,

शिशु को लिटाने, खिलाने के लिए पालना भी एक जरूरी चीज है। शिशु के लेटने के लिए एक आरामदायक और खूबसूरत पालना होना चाहिए। पालने में शिशु के गिरने, उलझने या दबने की संभावना नहीं होती है, इसलिए वो अच्छी तरह सोता है।

नवजात शिशु घर में पैदा हो, तो घर में एक डिजिटल थर्मामीटर होना बहुत जरूरी है। शुरुआती दिनों में बच्चों को बुखार, जुकाम होने की संभावना बहुत ज्यादा होती है। बच्चे का तापमान बढ़ने पर उसे डॉक्टर को दिखाने से पहले आपको घर पर ही उसका बुखार जांच लेना चाहिए। इसके लिए आप धर्मामीटर का प्रयोग कर सकते हैं।